सौंफ खाने के यह 7 फायदे आपको हैरत में डाल देंगे 

सौंफ मुख्यतः सभी के रसोई घर में आसानी से मिल जाती है । कुछ लोग इसे मसालों में स्वाद व खुशबू के लिए प्रयोग करते हैं तथा कुछ लोग इसे माउथ फ्रेशनर के रूप में भी प्रयोग करते हैं | यह माउथ फ्रेशनर के साथ-साथ पाचन क्रिया को दुरुस्त रखने का भी कार्य करती है यह काफी स्वादिष्ट व सुगंधित जड़ी बूटी होती है । इसमें कई गुण मौजूद होते हैं । इसमें मुख्यतः भूख बढ़ाने वाले वायुनाशी , रोगाणुरोधी ,कफनिस्कारक, एंटीआक्सीडेंट गुण पाए जाते हैं । इसमें विटामिन सी मैंगनीज , फोलेट व फाइबर भी पाए जाते हैं।

आइए जानते हैं सौंफ खाने के फायदों के बारे में

सौंफ खाने फायदे

१- सौंफ के बीज का सेवन करने से पेट फूलना ,कब्ज गैस ,एसिडिटी जैसी समस्याओं से छुटकारा मिलता है भोजन के बाद एक चम्मच सौंफ को मिस्री के साथ चबाएं आप चाहे तो सांप का पाउडर भी पानी के साथ ले सकते हैं अथवा सौंफ के बीज को पानी में उबालकर इस पानी को छानकर सेवन करने से भी गैस में राहत मिलती है।

२- दोस्तों साफ का नियमित सेवन करने से हम अपना वजन भी नियंत्रित कर सकते हैं सौंफ के बीज को पानी में उबालकर पानी को छान लें तथा इसका सेवन करें इससे शरीर में अतिरिक्त तरल पदार्थ को हटाया जा सकता है जो की अस्थाई वजन का एक मुख्य कारण है। सौंफ के बीज प्राकृतिक वसा नाशक का कार्य करते हैं । सौंफ का सेवन करने से यह हमारी भूख को कम कर देती है तथा पेट भरा हुआ महसूस होता है जिससे वजन कम करने में सहायता मिलती है।

३- सौंफ कैंसर की रोकथाम के लिए भी अत्यंत कारगर है यह कैंसर जनित विषाक्त पदार्थों को बाहर हटाने में मदद करती है इसके अलावा सौंफ में एनेथोल नामक एक उत्तम एंटी इंफ्लेमेटरी फायटोन्यूट्रिएंट् पाया जाता है जो शरीर पर कैंसर विरोधी प्रभाव डालता है । यह कॉलान व ब्रैस्ट कैंसर के रोकथाम के लिए अत्यंत उपयोगी है।

४- यदि आप सांस से आने वाली दुर्गंध व कफ से परेशान हैं तो यह चिंता का विषय नहीं है आपको खाना खाने के बाद एक चम्मच सौंफ का सेवन करना चाहिए आप चाहे तो मिस्री के साथ इसका सेवन कर सकते हैं
रोगाणुरोधी गुण रोगों से लड़ते हैं और खराब सांस पैदा होने से रोकते हैं । आप सौंफ से बनी चाय को ठंडा करके कुल्ला भी कर सकते हैं । सौंफ कफ को दूर करने के साथ-साथ खांसी सर्दी फ्लू जैसे संक्रमण को भी रोकती है।

Also Read:   लौंग के चौकाने वाले 9 फायदे जानकर हैरान रह जाएंगे

५- सौंफ पोटेशियम का एक अच्छा स्रोत है जो हाई ब्लड प्रेशर के खतरे को कम करता है । सौंफ में विटामिन सी भी शामिल है जो एंटीऑक्सीडेंट के रूप में कार्य करता है । इसके अलावा सौंफ में फाइबर की मात्रा भी पाई जाती है जो कोलेस्ट्रॉल निर्माण को नियंत्रित करने में मदद करता है दिल का दौरा व स्ट्रोक होने जैसी समस्याओं से निजात मिलती है।

६- सौंफ का दैनिक सेवन करने से शरीर में विद्युत चालन प्रोत्साहित होता है जो स्वस्थ मस्तिष्क की कार्यशाला को बढ़ाता है इसका श्रेय सौंफ में पाए जाने वाले पोटेशियम के उच्च स्तर को जाता है । इसके अलावा सौंफ का रस वैसाडीलेटर के रूप में कार्य करता है और मस्तिष्क में ऑक्सीजन की पूर्ति को बढ़ाता है । यह मानसिक अवसाद से भी निजात दिलाने में सहायक है।

७- सौंफ की चाय का रोजाना सेवन करने से आप मधुमेह रोगों में दृष्टि हानि को रोक सकते हैं इसका श्रेय सौंफ के बीज में पाए जाने वाले ट्रांसएथेनोल को जाता है । सौंफ को पीसकर पाउडर बनाले तथा आधा चम्मच पाउडर के साथ आधा चम्मच मिश्री मिला लें और रोज रात को सोते समय दूध के साथ इसका सेवन करें नेत्र ज्योति तीव्र होती है ।

आप चाहें तो सौंफ के बीजों को उबालकर आई ड्रॉप भी बना सकते हैं । एक कप पानी ले उसमें सौंफ के डेढ़ चम्मच मिलाकर उबाल ले जब तक कि पानी आधा ना रह जाए फिर ठंडा होने पर आंखों में जलन में व तनाव से राहत पाने के लिए आप इसका प्रयोग आई ड्रॉप के रूप में कर सकते हैं।

दोस्तों आपने देखा कि किस तरह से आसानी से उपलब्ध होने वाली सौंफ हमारे लिए लाभकारी है और इसका प्रयोग दैनिक रूप में करके आप कई तरह की बीमारियों से बच सकते हैं । अगर आपको हमारा यह आर्टिकल पसंद आया हो तो कृपया इसे अधिक से अधिक शेयर करें।

error: Content is protected !!