समुद्र में बना यह शिवमंदिर दिन में कई बार जल में डूब जाता है (samundar Mein banaa ya Shiv Mandir din Mein Kai bar jal main main doob jata hai)

आज हम अपनी इस पोस्ट में एक ऐसे मंदिर के बारे में बताने जा रहे हैं जो समुंद्र (Sea) में डूब कर बाहर निकल आता है। प्रेम मंदिर शिव जी का मंदिर है।

समुद्र में बना यह शिवमंदिर दिन में कई बार जल में डूब जाता है (samundar Mein banaa ya Shiv Mandir din Mein Kai bar jal main main doob jata hai)

 

 

यहां काफी मशहूर (Famous) है शिवजी का या मंदिर दिन में कई बार पानी में डुबकी लगाकर बाहर आ जाता है शिवभक्त इसको बहुत ही श्रद्धा भाव के साथ देखने जाते हैं शिव जी का मंदिर (Temple) देखते ही देखते अचानक से पानी में डूब कर गायब (Invisible) हो जाता है और फिर अचानक से बाहर आ जाता है यह भक्तों के लिए बहुत ही प्रेम श्रद्धा वाला सबसे प्रमुख मंदिर है जिसको भक्त (Devotee) दूर दूर से देखने आते और अपनी श्रद्धा भाव भक्ति को शिव जी को देखकर अर्पण करते हैं और उनको अपनी श्रद्धा भाव से खुश करने की कोशिश करते हैं शिव भक्तों के लिए या Shiv temple important माना जाता है। या Temple Gujarat के badodara मैं स्थित है जो देखते ही देखते invisible हो जाता है।

ये भी पढ़ें:   कलयुग में मनोकामना पूर्ति के लिए किया जाने वाला व्रत वैभव लक्ष्मी व्रत - Vaibhav luxmi vrat

शिवजी का यह मंदिर काफी मान्यताओं को प्रकट भी करता है लोग बड़ी दूर दूर wishes hopesमान्यता को लेकर शिवजी की इस मंदिर को देखने आते हैं और अपने दिल में उनके प्रति श्रद्धा भाव को भी काफी प्रकट करते हैं शिव जी के भक्तों के लिए यह बहुत ही खुशी से परिपूर्ण होता है कि उनकी शिव जी का मंदिर समुंद्र में स्थित है शिव मंदिर के निर्माण में या मान्यताएं सुनी जाती है कि इस मंदिर का निर्माण शिव के पुत्र कार्तिकेय (Son kartikey) ने किया था ।या कम कम से कम दिन में दो बार डूब जाता है या कोई चमत्कार नहीं है according to nature प्रकृति की वजह से जलस्तर तेज होने के कारण पानी ऊपर आ जाता है जिसके कारण या मंदिर दिन में दो बार डूब जाता है या कोई चमत्कार नहीं है यह एक प्राकृतिक (Natural) घटना है।

ये भी पढ़ें:   नवरात्री 2021 : मां की सवारी डोली देती है कृतिक आपदाओं का संकेत और तृतीय और चतुर्थी तिथि एक होने वाली है

यह घटना दिन में दो बार होती है सुबह (Morning) और शाम (Evening) शिव भक्त अपने विचारों के अनुसार इसे शिवजी अभिषेक भी कहते हैं। या दिन में दो बार ओझल होता है और फिर नजर आने लगता है। शिव भक्त इस नजारे का आनंद बहुत ही खुशी के साथ देखते रहते हैं यह इस घटना को शिवजी के अभिषेक के स्वरूप से देखते हैं। या शिव जी के भक्तों की अपनी एक मान्यता है।

ये भी पढ़ें:   In Upayon Se Door Karen Ghar Ki Garibi || इन उपायों से दूर करें घर की गरीबी

मैं उम्मीद करता हूं कि आपको समुद्र में बना यह शिवमंदिर दिन में कई बार जल में डूब जाता है।यह आर्टिकल काफी पसंद आया होगा कृपया इसको सोशल मीडिया पर जरूर शेयर करें यदि आप कुछ प्रश्न करना चाहते हैं तो कृपया हमें कमेंट बॉक्स पर या हमें फेसबुक पर मैसेज करके भी पूछ सकते हैं।

Search terms – शिव मंदिर का डिज़ाइन, ऐसा कौन सा मंदिर है जो दिन में दो बार गायब हो जाता है, शिव मंदिर कैसे बनाएं, शिव मंदिर कहां है, भारत के प्रसिद्ध शिव मंदिर, शिव मंदिर इन इंडिया, शिव मंदिर का नक्शा, प्राचीन शिव मंदिर

Also Read-