यदि आप डिप्रेशन, सर दर्द व भूलने की बीमारी से हैं परेशान तो जान ले कहीं आपका चंद्र कमजोर तो नहीं है?

Spread the love

जब भी मनुष्य पैदा होता है तो उसके ऊपर किस प्रकार के ग्रह का क्या प्रभाव होगा यह उसकी कुंडली से आसानी से पता लगाया जा सकता है |

क्या आपको पता है कि कुंडली का एक मुख्य ग्रह चंद्रमा (Moon) माना जाता है, जी हां दोस्तों यदि आप यह सोचते हैं कि चंद्रमा का आपके जीवन से कोई भी मतलब नहीं है तो आपका सोचना बिल्कुल गलत है क्योंकि चंद्रमा मन का माता (Mother) का कारक होता है |चंद्रमा अशुभ फल देने पर आपकी जिंदगी में उथल-पुथल (Disturbance) मचा सकता है इसके विपरीत यदि चंद्रमा शुभ फल देता है तो वह एक रंक व्यक्ति को भी राजा बना सकता है क्योंकि यदि किसी व्यक्ति का चंद्रमा मजबूत होगा तो वह व्यक्ति मन से बहुत सुंदर व्यक्ति होगा और जिस व्यक्ति का मन मजबूत होता है वह हर  किसी परिस्थिति से निकलने का साहस रखता है|

यदि आप डिप्रेशन, सर दर्द व भूलने की बीमारी से हैं परेशान तो जान ले कहीं आपका चंद्र कमजोर तो नहीं है?

 कमजोर चंद्रमा के लक्षण

दोस्तों यह आप कैसे पता लगाएं कि कुंडली में आपके चंद्रमा कमजोर फल दे रहा है |आज हम आपके अपने इस आर्टिकल में आपको बताएंगे कि यदि आपकी कुंडली में चंद्रमा कमजोर है तो उसके क्या-क्या लक्षण मनुष्य पर दिखाई पड़ते हैं|

  •  व्यक्ति का अत्यधिक चिड़चिड़ा हो जाना
  • लगातार सर दर्द की समस्या बने रहना
  • माता से संबंध खराब होना
  • माता का स्वास्थ्य अक्सर खराब रहना
  • बहुमूत्र की समस्या हो जाना
  • कई बार मनुष्य दिवालिया व पागलपन का शिकार भी हो जाता है
  • यदि चंद्रमा अशुभ फल देता है, मनुष्य कभी भी स्थिर होकर एक निर्णय नहीं ले पाता है|
Also Read:   आज ही अपने पैर के अंगूठे में बांध लें ये काला धागा, मुश्किलें होंगी आसान Health & Vastu

यदि आपके व्यक्तित्व में इस तरह के लक्षण दिखाई दे रहे हैं तो समझ जाइए कि आपका चंद्रमा कमजोर है|

कमजोर चंद्रमा के उपाय

  1. चंद्रमा का रंग सफेद (White color) माना  जाता है अतः सफेद रंग की वस्तुओं का दान करने से चंद्रमा अशुभ फल देना प्रदान कर देते हैं |यदि आप दूध चावल का दान सोमवार (Monday)  के दिन शाम के समय करते हैं तो ऐसा माना जाता है कि इससे आपका चंद्रमा अच्छा होना शुरू हो जाता है|
  2.  चंद्रमा का शुभ फल प्राप्त करने के लिए आपको अमावस्या से अगले दिन से चंद्रमा को चंद्रोदय के समय जल में कच्चा दूध और चीनी मिलाकर जल देना आरंभ कर देना चाहिए |
Also Read:   सड़क पर चलते समय दिखाई दें ये 7 चीजें, तो अपना रास्ता बदल लीजियेगा।। विष्णु पुराण

दोस्तों चंद्रमा मन का कारक माना जाता है यदि चंद्रमा अशुभ फल दे तो आपके मन में हमेशा ही एक असमंजस का माहौल बना रहता है इसके विपरीत यदि आप का चंद्रमा शुभ फल देता है तो आपके जीवन में कई प्रकार की उन्नति आपको देखने को मिलती हैं|
जब भी चंद्रमा किसी शत्रु ग्रह की छाया में आते हैं तो वह दूषित हो जाते हैं और अपना शुभ फल जातक को प्रदान नहीं कर पाते हैं|

Also Read:   हिन्दू धर्म में सबसे पवित्र पांच चीजे क्या है। Hindu dharm Mein sabse pavitra panch chijen kya hai

इस आर्टिकल में हमारे द्वारा दी गई जानकारी आपको पसंद आई हो तो कृपया इसे अधिक से अधिक शेयर कीजिए |

Search terms – भूलने की बीमारी का इलाज Homeopathy,किस बीमारी में मरीज को भूलने की परेशानी होती है, महिलाओं में डिप्रेशन के कारण, डिप्रेशन का लक्षण और उपाय, पतंजलि में डिप्रेशन की दवा, भूलने की बीमारी के लक्षण, डिप्रेशन की सबसे अच्छी दवा, भारत में अल्जाइमर रोग के लिए आयुर्वेदिक उपचार


Spread the love