हार्ट अटैक से बचने के 12 तरीके, जरुर पढ़ें और शेयर करें

हार्ट अटैक दिल का दौरा इसलिए पड़ता है जब दिल तक खून पहुंचाने वाली किसी एक या एक से अधिक धमनियों में जमी वसा के थक्के के कारण रुकावट आ जाती है थक्के के कारण खून का प्रवाह अवरुद्ध हो जाता है खून नहीं पहुंचने से दिल की मांसपेशियों में ऑक्सीजन की कमी हो जाती है | यदि जल्दी खून का प्रवाह ठीक ना किया जाए तो दिल की मांसपेशियों की गति रुक जाती है | अधिकांश दिल के दौरे के कारण मौत थक्के के फट जाने से ही होती हैं ।

हार्ट अटैक के मामलों में 25% साइलेंट हार्ट अटैक के होते हैं साइलेंट हार्ट अटैक का पता लगाना मुश्किल होता है इसका पता नहीं लग पाता है यह बहुत ही खतरनाक स्थिति होती है ।

बदलती जीवनशैली में जहां मधुमेह BP जैसी रोग होना आम बात हो गया है वही हार्ट अटैक की समस्या भी अब आम होती जा रही है.

आइए दोस्तों आपको हार्ट अटैक आने पर होने वाले लक्षण के बारे में बताते हैं-

-पसीना आना
-सांस फूलना
-छाती में दर्द होना
-सीने में ऐठन होना
-हाथों कंधों कमर में जबड़े में दर्द होना
-मितली व उल्टियां आना
-सामान्य रूप से थक जाना

यदि यह लक्षण स्पष्ट दिखाई दे तो तुरंत डॉक्टर से संपर्क करें हार्ट पेशेंट को लंबी सांस लेने के लिए कहें आसपास हवा आने की जगह छोड़ दे ना कि उसे घेर कर खड़े हो ताकि पर्याप्त मात्रा में ऑक्सीजन मिल सके हार्ट अटैक आने पर यदि उल्टी की फीलिंग हो तो उल्टी करने दे हार्ट अटैक के समय मरीज को कुछ खिलाने या पिलाने की गलती कभी ना करें ।

एलोपैथिक उपचार के लिए डॉक्टर ए़ंजिओप्लास्टी करते हैं जिसमें ऑपरेशन करके खराब ब्लड बेसिल की मरम्मत की जाती है या बंद कोरोनरी आटरी को खोला जाता है दिल संबंधित समस्याओं के लिए हार्ट बाईपास सर्जरी कराई जाती है ।

Also Read:   आयुर्वेदिक घरेलू नुस्खों से करें पेचिश का इलाज 

आइए दोस्तों आपको कुछ ऐसे तरीको के बारे में बताते हैं जिनका प्रयोग करके आप हर्टअटैक से बच सकते हैं जैसे –

१-प्रतिदिन व्यायाम कीजिए सुबह शाम सैर पर जाएं जोगिंग कीजिए योग व ध्यान का सहारा भी ले सकते हैं

२-आजकल बिकने वाले जंक फूड का सेवन बिल्कुल ना करें जंक फूड में बहुत ज्यादा ऑयल यूज किया जाता है व इसे बनाने के लिए प्रयोग में लाई जाने वाली चीजें आपके स्वास्थ्य के लिए अत्यधिक हानिकारक होती है ।

३-यदि आपका वजन अधिक है तो इसे कम कीजिए क्योंकि ज्यादा वजन होने का सीधा असर आपके हृदय पर पड़ता है आप अपने आहार को बदलकर या फिर योग व प्राणायाम करके भी अपने वजन को कम कर सकते हैं ।

४-समय-समय पर अपने हाई ब्लड प्रेशर को चैक कराते रहे हाई ब्लड प्रेशर ही हार्ट अटैक का मुख्य कारण माना गया है ।

५-सबसे बड़ी बात है दोस्तों की तनावमुक्त रहे 8 घंटे की नींद पूरी लें ।

६-यदि आपका कोलेस्ट्रॉल बढ़ा हुआ है तो अपने कोलेस्ट्रॉल को कम कीजिए |

७-फाइबर एंटीऑक्सीडेंट युक्त आहार लीजिए |

८-सप्ताह में एक बार मछली जरूर खाएं |

९-सुबह खाली पेट लोकी के रस का सेवन करना चाहिए आप चाहे तो तुलसी के पत्तों के रस में लौकी के रस को मिलाकर भी सेवन कर सकते हैं यह अत्यधिक गुणकारी होता है |

१०-अर्जुन की छाल का सेवन करें अर्जुन की छाल को पानी में पकाकर इसकी चाय बनाकर इसका सेवन करना चाहिए |

११-खाने में अलसी के तेल का प्रयोग अधिक करना चाहिए |

१२-दिन भर में एक चम्मच शहद का सेवन अवश्य करें  |

दोस्तों यदि आप अपनी स्वस्थ दिनचर्या रखते हैं तभी आप एक स्वस्थ शरीर पा सकते हैं | अगर आपको हमारा यह आर्टिकल अच्छा लगा हो तो कृपया इसे अधिक से अधिक शेयर कीजिए |

Also Read:   इस जड़ी बूटी से आपके घुटनों का दर्द हमेशा के लिए हो जाएगा गायब

Also Read-

All the tips on this website are strictly informational. This site doesn't provide any type of medical advice. Please Consult with your doctor or other health care provider before using any remedies or health tips.
Protected by Copyscape
error: Content is protected !!