लक्ष्मी जी भगवान विष्णु के पैर क्यों दबाती हैं

लक्ष्मी पाने की इच्छा हर एक इंसान के अंदर होती है और उस लक्ष्मी को पाने के लिए भगवान विष्णु को प्रसन्न करना बहुत ही आवश्यक होता है। क्योंकि अक्सर अपने देखा होगा की माँ लक्ष्मी हमेशा विष्णु भगवान के चरण दबाते हुए ही मिलेगी।

 इसके बारे मे एक पौराणिक कहानी यह है कि एक बार नारद ऋषि ने लक्ष्मी माँ से पूछे की आप हमेशा श्री विष्णु जी के चरणों के पास रहकर उनके चरण को क्यों दबाती रहती है? तब माँ लक्ष्मी ने जवाब दिया की ग्रहो के अछूत प्रभाव से ना मनुष्य बचा है और ना ही देवी देवता।

जिस प्रकार महिलाओ के हाथ मे देव गुरु बृहस्पति होते है उसी प्रकार पुरुषो के पैरो मे दैत्यगुरु शुक्राचार्य होते है। और जब कोई महिला किसी पुरुष के पैर को दबाती है तब देव और दानव का मिलन होता है जिससे धन का लाभ होता है इसलिए मैं स्वामी का पैर हमेशा दबाती रहती हूँ।

भगवान विष्णु ने उसी पुरुषार्थ को अपने वश मे किया है। और लक्ष्मी उन्ही के वश मे रहती है जो सबका कल्याण करते है और कल्याण का जो भाव रखते है। और भगवान विष्णु के पास वह धन है जो सम्पत्ति है। और उसका उपयोग विष्णु जी को पता है।

वही दूसरी पौराणिक मे यह कहा गया है कि लक्ष्मी और अलक्ष्मी दोनो ही बहने है अलक्ष्मी लक्ष्मी से बहुत ही ईष्या करती है। अलक्ष्मी बिल्कुल भी दिखने मे अच्छी नही लगती है और जब भी लक्ष्मी जी अपने पति के साथ रहती है तो वह उनके बीच जा के पहुच जाती है। और उनकी इस हरकतों के कारण लक्ष्मी जी नाराज हो कर बोलती है की तुम मेरे पीछे क्यों आ जाती हो तो अलक्ष्मी ने जवाब दिया की मेरा पति मुझे छोड़कर चला गया है इसलिए तुम जहा भी जाओगी मैं तुम्हारे साथ रहूंगी।

Also Read:   आर्थिक तंगी दूर करता है पीपल का ये बिलकुल सरल सा उपाय

 लक्ष्मी जी उनकी इस जवाब से क्रोधित हो कर श्राप देती है तुम हमेशा वह रहोगी जहा ईष्या, झगड़े, क्लेश और कलह का वातावरण बन जाता है और यही निशानी है घर मे अलक्ष्मी के प्रवेश का इसलिए लक्ष्मी जी विष्णु जी की चरणों के पास बैठ कर उनके पैर की धूल को साफ करती रहती है ताकि अलक्ष्मी उस जगह ना रह सके। इसलिए हिन्दू धर्मो मे अलक्ष्मी को दूर करने के लिए घर की साफ सफाई रखी जाती  है ताकि अलक्ष्मी का उस घर मे वास ना हो।

Also Read-

All the tips on this website are strictly informational. This site doesn't provide any type of medical advice. Please Consult with your doctor or other health care provider before using any remedies or health tips.
Protected by Copyscape
error: Content is protected !!